NEFT, RTGS, IMPS, और UPI क्या है और इसमें क्या फर्क होता है।

0
319

NEFT, RTGS, IMPS, और UPI क्या है और इसमें क्या फर्क होता है।

ऑनलाइन पैसे ट्रान्सफर करने के लिये NEFT, RTGS, IMPS और UPI का इस्तेमाल किया जाता है। बहुत सारे लोगो को ये पता नहीं होता है कि ये क्या होता है और इसका इस्तेमाल कैसे किया जाता है।

1. NEFT (National Electronic Funds Transfer) -: ये एक तरीका है जिसकी मदद से एक बैंक एकाउंट से किसी दूसरे बैंक एकाउंट में पैसा ट्रांसफर किया जाता है। इसकी शुरूआत नवंबर 2005 में शुरू किया गया था। इस सुविधा के जरिये आप अपने इंटरनेट बैंकिंग के जरिये किसी दूसरे बैंक के एकाउंट होल्डर को पैसे भेजने के लिए उसे आपको आपने नेटबैंकिंग में बेनिफिशरी के रूप में ऐड करना पड़ता है उसके बाद आप उसे पैसे भेज सकते है। इसके लिये आपको उस एकाउंट होल्डर का एकाउंट नम्बर, नाम और जिस बैंक में उसका खाता है उस बैंक का IFSC Code चाहिए होता है। एक बार जब आप उसे ऐड कर लेते है तो आप जितनी बार चाहें उतनी बार उसे पैसे भेज सकते है, NEFT के द्वारा आप 1 रुपये से लेकर 25 लाख रुपये तक भेज सकते हैं।

NEFT करने का समय सुबह 7 बजे से लेकर शाम को 7 बजे तक होता है इस समय के भीतर आप NEFT कर सकते हैं, अगर आप इस समय के बाद NEFT करते है तो वह अगले दिन के समय मे प्रोसेस होगा। NEFT करने के 3 घंटे के बाद प्रोसेस हो जाता है या कभी कभी उससे ज्यादा भी समय लग जाता है।

अब बात करते हैं NEFT के चार्जेस की-

0 – 10000               =.     2.50 + Service Tax
10000 – 1 लाख       =.     5.00 + Service Tax
1 लाख – 2 लाख        =.     15.00 + Service Tax
2 लाख से ज्यादा।       =.    25.00 + Service Tax

2. RTGS (Real Time Gross Settlement) -: इसमें एक एकाउंट से दूसरे एकाउंट में पैसों को आर्डर By आर्डर Real Time में बिना किसी वेटिंग के भेजा जाता है। इस सुविधा के द्वारा आप एक बैंक से दूसरे बैंक में बिना किसी वेटिंग के Real Time में पैसे भेज सकते हैं। ये सुविधा ऑनलाइन और  ऑफलाइन दोनों होती है ऑफलाइन के लिये आप बैंक जाकर RTGS कर सकते हैं, और ऑनलाइन के लिये आपको एकाउंट होल्डर को बेनिफिशरी के रूप में अपने नेटबैंकिंग में ऐड करना होता है जिसके लिये उसका नाम, एकाउंट नम्बर, और जिस बैंक में उसका एकाउंट है उस बैंक का IFSC कोड जरूरी होता है बेनिफिशरी एक्टिवेट होने के बाद आप उसे Real Time में पैसे भेज सकते हैं। NEFT में आपको पैसे भेजनी कोई लिमिट नहीं होती है उसमें आप 1 रुपये तक भी भेज सकते हैं जबकि RTGS में कम से कम पैसे भेजने की लिमिट है वो 2 लाख रुपये है इससे कम आप RTGS नहीं कर सकते हैं ज्यादा में आप अनलिमिटेड पैसे भेज सकते हैं।
RTGS का समय शुरू होता है सुबह 9 बजे से शाम के 4:30 बजे तक और शनिवार को सुबह 9 बजे से दोपहर 2 बजे तक।

इसके क्या चार्जेस होते हैं।

2 लाख – 5 लाख           =    30.00 + Service Tax
5 लाख – अनलिमिटेड    =    55.00 + Service Tax

3. IMPS (Immediate Payment Service) -: IMPS को हिंदी में तत्काल भुगतान सेवा कहा जाता है। ये एक ऐसा बैंकिंग सेवा है जिसके द्वारा आप Real Time में आप कहीं भी पैसे भेज सकते हैं। NEFT और RTGS के द्वारा पैसे भेजने पर जहां समय लगता है वही IMPS के द्वारा पैसे तुरंत भेजा जाता है। IMPS के द्वारा पैसा दो तरह से भेजा जाता है आपको सामने वाले का बैंक डिटेल्स होना चाहिए या फिर उसकी MMID और मोबाइल नम्बर होना चाहिए। अगर हम इसके चार्जेस की बात करें तो ये सेम NEFT के चार्जेस की तरह होते हैं।
IMPS के द्वारा आप एक दिन में 1 लाख रुपये तक ट्रांसफर कर सकते हैं इससे ज्यादा आप एक दिन में पैसे ट्रांसफर नहीं कर सकते हैं। IMPS के समय की बात करें तो आप 24 घंटे में कभी भी पैसे भेज सकते हैं।

4. UPI (Unified Payment Interface) -: ये पैसे भेजने का एक ऐसा तरीका है जिसके द्वारा आप कभी भी अपने एकाउंट से किसी को भी पैसे ट्रांसफर कर सकते हैं। UPI की शुरुआत NPCI के द्वारा शुरू किया गया था, NPCI का पूरा नाम National Payment Corporation of India. ये इंडिया के सभी बैंकों के ATM सेवा को देखती है। UPI के द्वारा आप एक दिन में 1 लाख रुपये या फिर 10 ट्रांजेक्शन कर सकते हैं। इसमें आप किसी भी बैंक में किसी को भी पैसे तुरंत भेज सकते हैं। UPI से पैसे भेजने की एक छोटी से फीस होती है 0.50 रुपये। UPI का समय भी IMPS की तरह 24 घंटे होती है, इसके लिये आपके पास UPI सपोर्ट करने वाला कोई ऐप्लिकेशन होना चाहिए जैसे कि भीम UPI, UPI से पैसे भेजने के लिये आपको UPI id, बैंक डिटेल, या फिर मोबाइल नम्बर होना चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here