ट्रेन में चेन खींचने का क्या नियम है | ट्रेन में चेन खींचना कब जुर्म नहीं है

0
265

 

ट्रेन में चेन खींचने का क्या नियम है | ट्रेन में चेन खींचना कब जुर्म नहीं है

आज के समय में भी बहुत से लोगों को ये नहीं पता होता है की ट्रेन में चेन खींचने का क्या नियम है। ट्रेन में आप बिना किसी वैलिड कारण के चेन खींच देते हैं तो उसके लिये आपको 10 हजार रुपये तक का जुर्माना या 3 महीने तक कि जेल हो सकती है।

 

ट्रेन में चेन खींचना कब जुर्म नहीं है

 

1. ट्रेन में आग लग जाये।


2. बुजुर्ग या दिव्यांग व्यक्ति को ट्रेन में चढ़ने में समय लग रहा हो और ट्रेन चल दे।


3. अचानक कोई सहयात्री जो 60 साल से ज्यादा का हो या कोई बच्चा छूट जाए और ट्रेन चल दे।


4. अचानक किसी की तबियत बिगड़ जाये।


5. ट्रेन में चोरी या डकैती होने लगे।

इन परिस्थितियों में ट्रेन में चेन खींचना जुर्म नहीं है। इन परिस्थितियों आप ट्रेन की जंजीर खींच कर ट्रेन को रोक सकते हैं। जोकि कानूनन बैध है इसमें आपको कोई सज़ा या जेल नहीं होगी।

 

चेन खींचने से ट्रेन क्यो रुक जाती है

 

अलार्म वाली जंजीरें ट्रेन के मेंन ब्रेक पाईप से जुड़ी होती हैं। इस पाईप में हवा का दबाव होता है जिससे ट्रेन रफ्तार में चलती है। जब कोई व्यक्ति ट्रेन की जंजीर को खींचता है तो हवा का दबाव निकल जाता है जिससे ट्रेन की रफ्तार कम हो जाती है और ट्रेन का लोको पाइलट ट्रेन को रोक देता है।

 

बिना किसी वैलिड कारण के चेन खींचने पर क्या सज़ा होती है

 

अगर आप बिना किसी वैलिड कारण के ट्रेन की जंजीर को खींच देते है तो इंडियन रेलवे एक्ट 1989 की धारा 141 के तहत रेलवे के कार्य में बाधा डालने के जुर्म में आपको 1 हजार रुपये या 1 साल की सज़ा या फिर जुर्माना या सज़ा दोनों एक साथ हो सकती है।

पहली बार पकड़े जाने पर 500 रुपये और दूसरी बार या तीसरी बार पकड़े जाने पर 3 महीने से कम नहीं हो सकती है।

 

चलती ट्रेन से आपका मोबाइल या फिर कोई सामान गिर जाये तो आपको क्या करना चाहिये

 

अगर आप किसी ट्रेन में यात्रा कर रहें है और आपका मोबाइल फोन या फिर कोई और समान चलती ट्रेन से गिर जाये तो आपको नीचे मोबाइल को देखने के बजाय सामने आपको इलेक्ट्रिक पोल पर लिखा हुआ नम्बर देखना है और उसके बाद आपको RPF की हेल्पलाइन 182 पर कॉल करना है। उसके बाद उन्हें बताना है कि आपका समान किस स्टेशन के बीच और किस इलेक्ट्रिक पोल के पास गिरा है। RPF आपका समान ढूंढ लेगी और आपको उस स्टेशन पर जाकर अपनी पहचान बता कर उसे ले सकते हैं। RPF का हेल्पलाइन नम्बर पूरे भारत के लिये 182 है या फिर आप GRP की हेल्पलाइन नम्बर 1512 पर कॉल करके मदद मांग सकते हैं।

 

किसी को अपनी गाड़ी में लिफ्ट देना एक क्राइम है ऐसे कानून जिसके बारे में जानना जरुरी है

 

ट्रेन में अब चेन खीचने पर सरकार काफी सख्ती बरत रही है। इसमें अब कोर्ट 10 हजार रुपये तक का जुर्माना या, 1 साल की कैद कि सज़ा, या दोनों सज़ा एक साथ कर रही है। पहले इसमें 500 या 1 हजार रुपये लेकर छोड़ दिया जाता था। लेकिन अब ऐसा नहीं होता हैं।

Read also

किसी को अपनी गाड़ी में लिफ्ट देना एक क्राइम है ऐसे कानून जिसके बारे में जानना जरुरी है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here